मंगलवार का दिन बजरंगबली को समर्पित होता है। इस दिन भक्त विधि- विधान से पूजा अर्चना करते हैं। वहीं कुछ लोग हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए व्रत रखते हैं। हनुमान जी की आराधना करने से व्यक्ति सभी प्रकार के रोग-दोष, भूत-पिशाच और भय से मुक्त हो जाता है। इस दिन हनुमान जी की पूजा करने से जातकों की कुंडली में मंगल दोष दूर होता है और मंगल ग्रह भी बलवान होता है। यदि आप किसी भी प्रकार के कष्ट का सामना कर रहे हैं तो मंगलवार के दिन हनुमान जी से जुड़े उपाय करने से आपके कष्ट दूर हो जाएंगे।

ज्योतिष विद्या के अनुसार मंगलवार के दिन इन उपायों को करने से धन की समस्या दूर हो जाती है। आइए जानते हैं उन उपायों के बारे में –

  • मंगलवार को अगर सुबह बड़ के पेड़ के एक पत्ते को तोड़कर गंगा जल से धो कर हनुमान जी को अर्पित करें तो धन की आवक बढ़ती है और आर्थिक संकटों से मुक्ति मिलती है।
  • जो भक्त सच्चे हृदय से मंगलवार के दिन बजरंगबाण का पाठ करता है उसके सभी शत्रुओं का नाश हो जाता है, लेकिन इसका पाठ एक जगह बैठकर अनुष्ठानपूर्वक 21 दिन तक करना चाहिए और हमेशा सच्चाई के मार्ग पर चलने का संकल्प लेना चाहिए, क्योंकि हनुमानजी सिर्फ पवित्र लोगों का ही साथ देते हैं।
  • मंगलवार के दिन हनुमान जी के सामने सरसों के तेल का दिया जलाएं और चालीसा का पाठ करें। यह उपाय करने से दांपत्य जीवन में सरसता आती है।
  • हर मंगलवार एवं शनिवार को हनुमान मंदिर में जाएं और गुड़, चना अर्पित करें। ऐसा 21 दिन तक करें और जब 21 दिन पूरे हो जाएं तो हनुमानजी को चोला चढ़ाएं। ऐसा करने से घर में सुख-शानित बानी रहती है।
  • अगर आप किसी बीमारी से परेशान हैं तो जल का एक पात्र हनुमान जी कि प्रतिमा के सामने रखकर हनुमान बाहुक का 26 या 21 दिनों तक पाठ करें। प्रतिदिन उस जल को ग्रहण करें और दूसरा जल रखें। हनुमानजी की कृपा से शरीर की समस्त पीड़ाओं से आपको मुक्ति मिल जाएगी।
  • यदि आपको अंधेरे या भूत-प्रेत से डर लगता है या किसी भी प्रकार का भय है तो आप मंगलवार के दिन पूजा के समय  “ॐ हं हनुमंते नम:” का 108 बार जप करें।
  • मंगलवार को पान का बीड़ा नियम से चढ़ाया जाए तो रोजगार के रास्ते खुलते हैं। नौकरीपेशा को प्रमोशन के अवसर मिलते हैं।
  • समस्त दुखों से मुक्ति के लिए प्रत्येक मंगलवार को हनुमान जी के पूजन में सिंदूर का उपयोग करना चाहिए।
  • मंगलवार के दिन गंभीर बीमारियों से मुक्ति के लिए किसी गरीब बीमार व्यक्ति को दवाइयों का दान जरूर करें।