आज कल की दौड़-भाग भरी ज़िन्दगी में हर व्यक्ति यही चाहता है कि उसके घर में हमेशा सुख-समृद्धि बनी रहे और उस पर सदैव माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद बना रहे। लेकिन इंसान चाहे जितनी भी कोशिशे कर ले कभी-कभी उसके जीवन में धन संबंधित समस्याओं बढ़ने लगती हैं। घर में धन की समस्या बढ़ना और अचानक से घर में दरिद्रता का वास होना, जीवन में परेशानियों का बढ़ जाना आदि इन सब के पीछे का कारण आपके द्वारा कि गई गलतियां भी हो सकती हैं। जाने-अनजाने हम कई बार ऐसे कार्य कर देते हैं जिसके कारण घर में दरिद्रता का वास होने लगता है। ऐसे ही कुछ कार्य हैं, यदि जिन्हें रात के समय किया जाए तो आपको धन कि किल्लत होने लगती है। इसलिए ये कार्य भूलकर भी नहीं करने चाहिए। आइये जानते है वो कौन से कार्य है –

कुछ लोगों के घरों में रात को खाना खाने के बाद झूठे बर्तन ऐसे ही छोड़ दिए जाते हैं, ऐसा करना कतई उचित नहीं है। जिन घरों में रात के समय जूठे बर्तन गंदी रसोई पड़ी रहती हैं वहां कभी मां लक्ष्मी का वास नहीं होता है। ऐसे घरों में दरिद्रता का वास होने लगता है। इसलिए रात को कभी जूठे बर्तन छोड़कर न सोएं।

 

कुछ लोगों की आदत होती है की घर पर आते ही जूते-चप्पल इधर-उधर रख देते है। ज्यादातर लोग जल्दी-जल्दी में अपने जूते- चप्पल दरवाजे के सामने पड़े रहने देते हैं। ऐसी मान्यता है कि जिन घरों में रात के समय दरवाजे के सामने जूते चप्पल पड़े होते हैं वहां मां लक्ष्मी दरवाजे से ही वापस चली जाती हैं। बिखरे हुआ जूते चप्पलों के कारण घर में नकारात्मकता का वास भी होने लगता है। घर में हमेशा जूते-चप्पल रखने के लिए सही स्थान बनाना चाहिए और उक्त स्थान पर ही व्यवस्थित करके जूते रखने चाहिए।

लोग पूरे दिन काम करते हैं जिसके बाद वे बहुत थक जाते हैं और बिस्तर पर जाना चाहते हैं। इसलिए घर का सामान ऐसे ही बिखरा हुआ ही छोड़ देते हैं। कभी-कभी लोग आलस्य के कारण भी ऐसा करते हैं। कारण चाहे जो भी हो लेकिन रात को कभी भी बिखरा हुआ सामान छोड़कर नहीं सोना चाहिए। इससे आपके घर में नकारात्मकता का वास होता है, जिससे घर में सुख-समृद्धि की कमी आती है। इसके अलावा जब आप सोकर उठते हैं और घर में इधर-उधर बिखरा हुआ सामान देखते हैं तो आपका मूड भी खराब हो जाता है। इसलिए घर को व्यवस्थित करके ही सोने जाएं।